विद्यालयों में सहयोग या प्रतिस्पर्धा

 

‘विद्यालयों में सहयोग या प्रतिस्पर्धा’ के विषय पर पूछिए अपने सवाल या लिखिए अपनी राय, नीचे Comments में|

Leave a Reply

Notify of
niranjan lal patel

अच्छा सुक्षाव

yasvant sinha

School me dono ka hona bahut jaruri hai dono sahayog aur pratispdha ek dusare ke purak hai……..Nice

Mahesh Singh

बेहतरीन सुझाव

Ratna sangita

yes

Anand ram dewangan P/S BUDIYA (TAMNAR)

बहुत ही बेहतरीन सुझाव है।

Santosh Kumar

बहुत सुन्दर दमदार

BAL MUKUND SIDAR

very nice

धर्मेन्द्र कुमार जाँगड़े

very nice

कमलकिशोर ताम्रकार M/S उसरीजोर वि़ख़. मैनपुर जिला गरियाबन्द

बहुत ही सुन्दर और लाजवाब
द टीचर परिवार को साधुवाद

PRABHA KUMARI

nice

Mahesh Ram Baiga

Good

Rama sahu p/s sildaha

very nice

Virendra Kumar Choudhary

प्रतिस्पर्धा से सीखने गति में वृद्धि होती है

nilam Anju purty

good

कमलकिशोर ताम्रकार M/S उसरीजोर वि़ख़. मैनपुर जिला गरियाबन्द

very good sir

Anjana kumari

सहयोग के साथ प्रतिस्पर्धा आवश्यक है ।प्रतिस्पर्धा स्वस्थ होने चाहिए ।

Gulab chandra sahu

शाला में सहयोग और प्रतिस्पर्धा दोनों जरूरी है । किन्तु छात्र के भावना में द्वेष की जगह न हो ऐसा नैतिक शिक्षा व्यवस्था संस्था स्तर विकसित होना चहिए । प्रतिस्पर्धा के अभाव में हम विकास की कल्पना कैसे कर सकते हैं ।

SITARAM MAHTO

very good

ravishankar patel

विद्या धन बाटने से बढती है ये कही न कहीं ब्च्चों सहयोगी बनने की ही प्रेरणा देता है

ravishankar patel

खेल कूद में प्रतिस्पर्धा होना ही है सर जी

R Uma shri

good

Nisha devi

good

Santosh Kumar

good

Rameshwar Prasad Sendre

very nice.

HIRA LAL SAHA

sundr

Devanand Banjare

good

meena devi

बहुत बढि या जानकारी अध्यापकों के लिये

meena devi

Digital training is very important to all teachers

RAMESH KUMAR RATHORE

very nice

1 4 5 6
wpDiscuz
301 Comments
164