कक्षा में आलोचना नहीं, विवेचना!

इस Chatशाला से जुड़े सवाल हम से पूछिए या लिखिए अपनी राय, नीचे Comments में|

Leave a Reply

Notify of
Kuldeep Chand

Very nice speech

mithilesh kumar singh

good speech on

parmeshwar mahakur

Very nice speech

Kushla Devi

Very informative….. Discussion

BULENDRA KUMAR MURMU

very very nice

kaushalesh kumar singh

आलोचना कक्षा मे नही ,अकेले मे करना चाहिए।यह बात सैद्धान्तिक रुप ठीक है व्यवहारिक रुप मे नही।क्योंकि कक्षा मे उतना समय का अभाव होता है।

BIRENDRA PRASAD

Yes it will be very fruitful for students. we should always understand the mindset of every students. we always face such situations. we are not only a teacher, we are also a torch bearer for students. without understanding the mindset of students we cannot teach.

BIRENDRA PRASAD

Birendra Prasad

Binod Kumar Das

बहुत अच्छी बातें बताई गई है। शिक्षको को बालमनोविज्ञान की समझ अवश्य होनी चाहिये,तभी वे बच्चों के भावनाओ को समझते हुए उसे आगे ले जाने का काम कर पाएंगे।शिक्षक को हमेशा ही बच्चो के पसंद को ही उसके शिक्षा का माध्यम बनाना चाहिये। एक बार जब बच्चे डिप्रेशन में चले जायेंगे तो फिर उससे बाहर उसे निकलना मुश्किल हो जाएगा,इसलिये शिक्षक को चाहिये कि बच्चों के द्वारा किये गए गलतियो पर उसे डांटने के बजाय प्यार से समझते हुए उसकी गलतियो को बताना चाहिय।

r.k.mishra

बहुत अच्छी बात है बच्चे प्यार से बहुत कुछ सिख सकते है

Dinesh kumar yadav

bachchon me abhivyakti kaushal ka vikas kaise
aasani se kar sakte ha?

urmila marskole

मैडम ने बहुत अच्छी बात कही है

Rajender Verma

हमें बच्चों की weakness को बच्चे को बार बार याद नहीं दिलानी चाहिए। हमें चाहिए कि जो बच्चे कमजोर है उनके अन्दर क्या प्रतिभा छिपी हैं, जिसको हम strengthen भी कहते हैं उसकी और बढावा देना चाहिए।
जिसमें विषय में बच्चा पिछड़ रहा अतिरिक्त समय देकर कुछ हद तक स्वालम्बी बना सकते हैं। मैडम ने भी बहुत अच्छी बात कही है।
Weakness को छोड़कर strength पर जोर देना चाहिए।

Lal dei

ये बात तो बिलकुल सही हैं पर कई क्लासओ में एक आध बचा तो बिल्कुल ही नही समझते तो क्या करे प्लीज् बताइये

gulam hasnain

सबसे पहले हमें बच्चो से घुल मिल कर रहना पड़ेगा जिससे वे हमें आसानी से ये बता सके कि
उन्हें किसी चीज़ को समझने में कहा परेसानी हो रही है । ये मैंम ने जो बात कही है वो सत्य है ।

deepika jagat

बच्चों से संबंधित बहुत अच्छा विडियो है। बच्चों के लिए विवेचना ही करना चाहिए।

PAWAN KUMAR KUNJAM

Vivechana yes

Anita kumari

Yes

Neena Sharma

Teachers ko bache ke sath is trh pesh aana chahiy ki uska mnabal bna rhe or vh bina dr ke tescher se apne kthin bindu ko bta ske

Parkash Chand

Very impressive and useful.

surekha

Very nice massage

Attar Sharma

Nice. It’s easy process to teach the pupils.

राजीव

Merry Rai se vivechana karna jyada upyukt hai

Pankaj Chauhan

निंदक नेडे राखिए

rajni sharma

Very nice massage.it is necessary to increase the morale of the students.

Manmohan

It’s good .All teachers should be connected with teacher’s app officially and compulsorily.

Rita Devi

Nice massage

shamsher singh

Very nice message to teacher. Ydi bchha class mai smjh nhi pa rha hai to is me bche ki koi glti nhi hoti, ho skta he teacher ne Jo trika pdane ke liye apnaya hai VH Etna kargr nhi ho use VH bdl kr dekhna chahiye. Ya ho skta hai vishy vstu bche ki bodik kshmta se upr ki ho ,to teacher ko vishy vstu ko chote chote hise mai bant kr pdana chahiye

Raghunath prasad dhruw

Right. …

Sujata Rani

Nice massage for teacher

Beena kumari

Nice thanks for the clip

madan lal

Vivechnaa aur Alochana ke Madhya ki Rekha bahut dhundli hoti hai Uska Bhi Dhyan Rakhna zaroori hai

Shiv kumar

Nice presentation.
Need some more suggestions and techniques to improvement.

manorma

Teacher and other can do help .they can give him motivation and he will come back again to school.

kapil Chauhan

सही और सार्थक प्रस्तुति ।

Parveen Sharma

Great… Thank you for this clip.
यदि छात्र गृह कार्य करके nahi लायें। याद करके भी nahi लाते. Parents से भी सम्पर्क करने से भी समस्या का समाधान nahi हुआ। कृपया उपाय सुझाएँ। जब तक बच्चे गृह कार्य nahi करेंगे तथा याद nahi करेंगे कैसे सीखेन्गे? spellings, word meaning तो याद करने ही पडेंगे। कक्षा के जो छात्र home work nahi करते वही पढाई me कमजोर हैं। उन्हे कैसे सुधारें?

gulam hasnain

मुझे लगता है sir इसके लिए आपको क्लास में बच्चो को गोल बैठा कर एक एक करके स्पेलिंग का खेल कराना होगा जो स्पेलिंग बताते जाएगा वह गेम में रहेगा जो नही बताएगा वह बाहर होकर
सुनेगा । इसके बाद धीरे धीरे देखना वो बच्चे भी स्पेलिंग सुनाएंगे जो नही सुनाते । मेरा अनुभव है sir।

Dan singh

हकीकत बात।

inder ram

It’s good

sunilkumar

Nice it’s true

arjun ji

अभिभावक के समय से शुल्क नहीं देना और पाल्य का विद्यालय से पलायन करने वाले व्यवहार पर क्या करें

p.c.rangra

Teacher and other can do help .they can give him motivation and he will come back again to school.

varun thakur

Good message

Kuldeep thakur

Very nice it’s true.

Nisha

आलोचना से बालक हतोत्साहित होंगे और विवेचना से निश्चित रूप से आगे बढ़ सकते हैं।

S Jalam Singh

Really true and good

Arjun

nice

ROSHAN LAL

Useful Method Roshan LalRanote

Amoliram Jamdare

Good , bachcho ko protsahit Karne ka best tarika.

89991XXXX

Very important

Anjana

Important and useful method

raghuvansh mishra

Very useful for teachers.
Good Lesson

rajkumar deepak

Behatrin prayas

rachna devi

Nice message for teacher

mast ram

Good

Padma Devi Thakur

Very nice.

wpDiscuz
56 Comments
75