Little Prince

‘Little Prince’ किताब से जुड़े सवाल हम से पूछिए या लिखिए अपनी राय, नीचे Comments में|

Leave a Reply

Notify of
Neeta pandey

nice

ARVIND KUMAR GUPTA

goooodddd

Laxmi Baghel

good

rattanidevi

very interesting

Ashok kumar

nice

Reeta Devi

Good

SandeepSharma

very nice

VIJAY KUMAR PANDEY

very nice

Paramjeet Singh

बहुत ही मार्मिक कहानी है। काल्पनिक सोच को विकसित करने के लिए ऐसी कहानियां मील का पत्थर साबित हो सकती हैं। कुछ नए शब्द भी सीखने को मिलते रहते हैं।

suraj tiwari

अद्भुत चैट शाला सुनते सुनते कहानी के पात्र बन गया था कभी लगता वह छोटा प्रिन्स हूँ कभी लगता वह घमण्डी राजा । खिन न कहीं पात्रों में अपने को ढूंढता हुआ बिलकुल निश्छल इंसान कभी विचित्रताओं के मरुभूमि में भटकता हुआ ।

बहुत बहुत आभार आदरणीया सरिता शर्मा जी इतने सुन्दर चैटशाला हम शिक्षकों के लिए खोज खोजकर लाने के लिए 🙏🙏🙏

kedar Nath Deshmukh

Wow nice

Amar Nath Badharan

very nice g

Deep kumar

बहुत बढ़िया

vasundhra kurrey

शिक्षा प्रद कहानी है

Laxmi Baghel

शिक्षा प्रद stori बहुत सुंदर

Jitendra Kumar Bhardwaj

good

श्री हेमराय साहू (शिक्षक) शास.पूर्व माध्य. विद्यालय खोला,

very nice

SAMAY LAL SIDAR

very nice

promila devi

बहुत बढ़िया

Jeewan lal thakur

बहुत सुन्दर कहानी

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

लिटिल प्रिंस,,,,,,,,,,,,,
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴

लिटिल प्रिंस की पुस्तक पोथी,,,,,,,,,,
करती ग़जब इशारा है,,,,,,,,,,,,,
संकीर्णताओं की बदली में,,,,,,,,,,,
सुबह का सूरज हारा है,,,,,,,,,,,,,,

मन में अजब निराशा हो,,,,,,,,,
तनिक कोई न आशा हो,,,,,,,,,
सकारात्मकता की मीठी बोली,,,,,,,,
तब सुंदर सा सहारा हो,,,,,,,,,,,,,,

प्रशंसा सुनने की लत हो,,,,,,,,,,
तारीफों में जब रत हो,,,,,,,,
निश्छल सच्चे शब्दों की,,,,,,,,,,,
जबकि तुम्हें ज़रूरत हो,,,,,,,,,,,,,,,

अकेलापन जब तुम पर हावी,,,,,,,,
मन भी रोने लगता हो,,,,,,,,,,,,,
नकारात्मकता से लड़ पड़ो,,,,,,,,,,,
विजय राह पे चल पड़ो,,,,,,,,,,,,,

परेशानी बिन जीवन बेमानी,,,,,,,,,,
स्वप्निल आशा किसको लानी,,,,???
स्वप्न निशा से जागो सब,,,,,,,,,,,,,,,
साकार हक़ीक़त हमें बनानी,,,,,,,,,,,,,,,✍️

Neeta Pandey

nice

rameshwarprasadbhagat

शिक्षाप्रद कहानी है जो घमंडी इंसानों के अंतर्मन को प्रतिबिबित करती है।

Ajay kumar sahu

किताबों का महत्व छात्रों के लिए बहुत जरूरी है ।

kedar Nath Deshmukh

बहुत सुन्दर

kumari Preeti Shrivas

good

Naresh kumar Chamba

good

Manoj Kumar Verma

very very good

Shweta tiwari

Good

Subhash Kumar Gupta

very nice

बलराम नेताम

nice

Bansi Lal

very good

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी
लिटिल प्रिंस ✒️✒️✒️✒️ भावात्मकता के मधुर बाग में,,,,, संकीर्णता के उलझित काँटें,,,,, हृदय को चुभन दे देते हैं,,,,,,,,,, अकेलेपन का दौर बुरा,,,,,,,,,, नकारात्मकता हावी होते हैं,,,। विद्यार्थी निश्छल डोर बंधा,,,,,,, शिक्षक की आंख की तारा है,,,,,, स्वस्थ प्रशंसा ,सच्ची तारीफ़,,,,,,, सदा शिक्षक ने स्वीकारा है,,,,,,, जानती हूँ कागज के गुलाब से,,,,, भला कैसे खुशबू आएगी,,,,,,,, हृदय से हृदय की समर्पित आराधना,,,,, गुरु -शिष्य में गहन आस्था जगाएगी,,,,,,,, शिक्षक एक ओज ,एक प्रकाश है,,,,,,,, लिटिल प्रिंस सरीखे विद्यार्थियों की आस है,,,,, शिक्षक एक सनसनाती विद्युत धारा है,,,,, प्रेरक स्याही ही जीवन का एक सहारा है,,,,, अक्षर -अक्षर सजीव होकर ,,,,, यूँ… Read more »
Rakesh Kumar

Nice

yasvant sinha

very nice

Govind Patel

बहुत ही अच्छा।

kedar Nath Deshmukh

बहुत बढ़िया प्रस्तुति…
अनुकरणीय है

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

चैटशाला 【 लिटिल प्रिंस 】
▪️🌼▪️🌼▪️🌼▪️🌼▪️🌼▪️

संकीर्ण सोच के गहरे वन में ,,,,,,,,
सकारात्मकता का स्वर्णिम मृग ,,,,,
मस्त कुलांचे भरता है,,,,,,,,
लिटिल प्रिंस बन इतराता है,,,,,,,,
इक लाल गुलाब लगाता है,,,,,,,

किस्तों में न बंटे ज़िंदगी,,,,,,,,
निराशा हावी न हो जाये,,,,,,,,,
हो सच्ची, सरल ,स्वस्थ प्रशंसा,,,,
जीवन सहज -सुगम बन जाये,,,,,

अकेलेपन में मत घबराओ,,,,,,,
आओ बच्चों सरगम गाओ,,,,,,
विद्यालय की ज्ञान- धरा पर,,,,,
प्रथम -पुलक आभास सजाओ,,,,

उत्सवमय विद्यालय आँगन,,,,,,,,,,
तुलसी सा विद्यार्थी जीवन,,,,,,
नई खनक,, इक मीठापन,,,,,,,,,
घोल रहा है छात्र जीवन,,,,,,

क्या भावों की उपमा दूँ,,,,,,,
उपमान भी फीके दिखते हैं,,,,,,
पुस्तक सा सुंदर सखा नहीं,,,,,,,
हम शिक्षक मिल ये कहते हैं,,,,,,,,✍️✍️✍️

बेहतरीन प्रस्तुति,,,शुक्रिया,,,The Teacher App Team💐💐
🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅🔅

Ashritha

nice

anusuya patel

बहुत अच्छी है

sandhya kumari

nice

Laxmi Baghel

प्रेरणादायक कहानी है

dhruw kumar mahant
निंदक नियरे राखिये,,,,, उपरोक्त little prince के संदर्भ में चरितार्थ होता है। मौसम जब हुआ सुहाना ,,,तो रह पाया कौन अकेला है,,,,आलोचनायें,, और समालोचना जिंदगी के अहम हिस्से हैं,,, आलोचना इंसान को जिंदगी के नज़दीक ले आता है और हर पल सीखने के मार्ग को प्रशस्त करता है।जबकि चाटूकारिता,, व्यक्ति को सच्चाई से कोसों दूर ले जाता है। हर इंसान की अपनी समझ होती है। little prince एक स्वाभिमानी ,,,तार्किक सोच वाला व्यक्ति है। कहानी का सार यह है कि व्यक्ति को आलोचना और समालोचना के फेर में नही पड़ना चाहिए।। अपनी नजरिए और सिद्धांतों से कभी समझौता नही करना… Read more »
श्रीमती प्रियंका गोस्वामी
प्रिय सरिता जी ,,,,ख़ास आपके लिए,,,, ●●●●●●●●●●●●●● यूँ लगता है मुझे आजकल,,,,,, सुनूँ चैट शाला दिन भर हर पल,,,, ये किसके आवाज़ की जादूगरी है,,,,, जो लम्हा -लम्हा कानों से गुज़रती है,,, जगाती है प्यार पुस्तकों के लिए,,,,, नैतिक मूल्यों की कहानी के लिए,,,,💐💐💐 सरिता सी अविरल बहाव,,,,, आवाज़ संग प्रेरणाओं का भाव,,,,, रस मिश्रित आवाज़ आपकी,,,,,, इत्र सी सुगंध आवाज़ आपकी,,,,✍️✍️✍️ लिटिल प्रिंस【 Little Prince –पुस्तक पोथी】 ============================ ,,लिटिल प्रिंस,, की कहानी फ्रेंच लेखक Antoine de Saint -Exupery द्वारा लिखित है,, 1943 में छपी यह क़िताब दुनियां भर में 20 करोड़ प्रति में खरीदी गई,,,,इतनी विलक्षण किताब को पढ़ना… Read more »
1 6 7 8
wpDiscuz
404 Comments
178