ईश्वरी भोई की कहानी

रायगढ़, छत्तीसगढ़|

कुछ कहानियाँ संघर्ष से ऐसे भरी होती हैं के सुनने वाले को कहानी व मुख्य किरदार दोनों से ही लगाव हो जाता है। ईश्वरी भोई की कहानी उनके बचपन से शुरू होती है।  जिस ज़माने में लड़कियों का स्कूल जाना निषेध होता था, तब उन्होंने अपने गाँव में ही आठवीं तक की पढ़ाई पूरी की।

पढ़ाई में अच्छे प्रदर्शन के कारण उन्हें छात्रवृत्ति दी गयी, जिसके कारण वे आगे पढ़ पायीं। उनके पिताजी ने अपनी खेती का काम छोड़ कर दो साल उन्हें पढ़ाया-लिखाया। उस समय लड़कियों का बस में सफ़र करना मुमकिन नहीं था। तो उनके पिताजी  साइकिल पर बिठा कर उन्हें ६ किलोमीटर दूर स्कूल छोड़ने जाते। इस तरह से ईश्वरी जी ने अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी की| कई सालों की परिश्रम के बाद वे सरकारी स्कूल में असिस्टेंट अध्यापिका बन गयीं।

उनकी शादी के बाद उनकी पढ़ाई को आगे बढ़ाने में उनके पति का बहुत सहयोग रहा। आज उन्हें बच्चों को पढ़ाते हुए 25 साल से ज़्यादा हो गए हैं, पर आज भी उनकी लगन और मेहनत में कोई कमी नहीं है। वह नहीं चाहती के किसी भी लड़की की शिक्षा पैसों की वजह से रुके। इसीलिए वे गरीब घरों की बच्चियों को मुफ्त में पढ़ाती हैं, व उनको किताबें और स्टेशनरी (लिखने के सामन) खुद देती हैं। उन्होंने टेक्नोलॉजी का भरपूर इस्तेमाल करके अंग्रेजी भाषा सीखी व कंप्यूटर चलाना सीखा, ताकि वे बच्चों को सिखा सकें। ईश्वरी जी का जुनून ही उनका व्यवसाय है, और इसीलिए वे हमारी शिक्षा प्रणाली में कुछ अलग कर के दिखा रही हैं।

ये छतीसगढ़ की एकमात्र शिक्षिका हैं जिन्होंने CERN के International High School Teachers Program को Geneva में पूरा किया| उनके प्रयास और तरक्की को हम सलाम करते हैं|

यह कहानी ईश्वरी भोई के जीवन पर आधारित है जो, रायगढ़, छत्तीसगढ़ से हैं|
कहानी लावन्या कपूर के द्वारा लिखी गयी है|  
हम छत्तीसगढ़ सरकार के आभारी हैं कि उन्होंने हमें  Humans of Indian Schools से परिचित किया|

 

Leave a Reply

Notify of
Neeta Pandey

nice

Hira oraon

nice

shraddha kedia

prenatmak

rameshwarprasadbhagat

बहुत अच्छा

Hemant Kumar Verma

good

daleep singh

Good

Subhash Kumar Gupta

very nice

kumari Preeti Shrivas

good

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

प्रिय ईश्वरी भोई जी,,,,,,आत्मीय नमन,,,,,,
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺

हौसला【 कविता 】
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺

आपका हौसला , विद्यार्थियों का मूल आधार होता है,,,,,,
संघर्ष आपके प्रेरक भावों का संचार होता है,,,,,,,,,

इक दूजे का मन शिक्षक विद्यार्थी तभी पढ़ पाते हैं,,,,,,,
जब आत्मीयता का अथाह विस्तार होता है,,,,,,,,,,

शिक्षकीय ओहदा इतना आसान भी नहीं होता,,,,,,
जीत ले जो शिक्षक विद्यार्थी हृदय,,वही बस पार होता है,,,,

ईश्वरी जी संघर्षों से जीतकर आपने जो मुकाम पाया है,,,,,,
अविस्मरणीय दास्तान है,, मुकम्मल जहान जो आपने बनाया है,,,,

प्रतिकूलता में भी जो न माने हार है,,,,,,,,
असल बाजी वही जीत ले जाता है,,,,,,,,,,,,,

जाओ ब्रह्मांड के किसी भी कोने में,,,,,,,,,
चरणों में शिक्षक के नित संसार होता है,,,,,,✍️

dhruw kumar mahant
सबसे पहले रायगढ़ जिले की इस महान बेटी को नमन,,वंदन,,और अभिनंदन,,, ग्रामीण अंचल में महिला शिक्षा की अलख जगाने के लिए कोटिशः बधाई एवं असंख्य शुभकामनाएं,,,, मध्यम वर्गीय परिवार से संबद्ध होने के बावजूद आपके परिवार ने आपको शिक्षा हासिल करने मे सहयोग किया वे भी धन्यवाद के पात्र हैं।शिक्षा जगत में सालों के सफर ने यह सिद्ध कर दिया किया कि आपकी सार्थक और उद्देश्य परक शिक्षण विधि ने एक नई मुकाम दिया है। सौंधी -सौंधी महक है,,, सौंधी आपकी सोच,,,ज्ञान की बारिश लेकर आई,,,छोड़ सभी संकोच,,, ज्ञानगंगा की धारा में मस्त हो,,,लिए हाथों में हाथ,,,आपकी ममता और नवल… Read more »
kedar Nath Deshmukh

बहुत ही प्रेरणादायक कहानी

sandhya kumari

very nice

Bansi Lal

very good

Govind Patel

very good

kedar Nath Deshmukh

आदरणीय ईश्वरी जी आपके परिश्रम को सादर अभिनंदन… आपने बच्चियों की पढ़ाई के लिए जो काम कर रहे हैं वह बहुत ही सराहनीय है…

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

प्रिय ईश्वरी जी,,,,,हार्दिक बधाइयाँ,,,,,
▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️

संघर्षों की देवी 【कविता 】
➖➖➖➖✍️

ये हिम्मतों के काफ़िलें हैं,,,,,,
अटूट इच्छाशक्ति लाज़वाब है जज़्बा,,,,,,
इरादों पे जहां का नहीं,,,,,,
इक ईश्वरी जी का कब्ज़ा,,,,,,,,
💐💐💐💐💐💐💐

ये साहिलों की रेत है,,,,,,,,,
आगे लकड़ियाँ और बेंत हैं,,,,,,,,
सबसे ख़ुशनसीब जो,,,,,,
ईश्वरी जी ,,
आपके study table की मेज़ है,,,,,,

💐💐💐💐💐💐💐
शिक्षक जरा रुक जाना ,,,,,,,
कुछ सोचो कहाँ जाना,,,,,,
फ़िज़ाओं में जो चमक उंडेलें,,,,,,
वो चमकीली कलम लाना,,,,,,
ईश्वरी जी सँग क़दम मिलाना,,,,,,✍️✍️✍️

नमन करती हूँ ईश्वरी जी,,,,,आपके बेहतरीन प्रयासों को,,🏆🏆

suraj tiwari

कौन कहता है आसमां में सुराख़ हो नही सकता ।
जरा एक पत्थर तो तबियत से उछालों यारों ।।
🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻

Laxmi Baghel

Nice

Laxmi Baghel

आपका कार्य सराहनीय है mem

yasvant sinha

Nice

niranjan lal patel

सराहनीय कार्य

Naresh kumar Chamba

good

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

प्रिय ईश्वरी भोई जी,,,,,,,आपके लाज़वाब ज़ज्बे को मैं सलाम करती हूँ,,,,,सच कहूं,,,,यक़ीन मानिए,,,,आपकी कहानी पढ़ते पढ़ते आंखें नम हो गईं,,,लिखना चाहूँगी,,,,,,

ईश्वरी जी आप सच मे ईश्वरीय वरदान हैं,,,,,
हम सभी शिक्षकों की सम्मान हैं,,,,,,

संघर्षों के सफ़र की आप हैं मिसाल,,,,,,,
देती हूँ आपको शिक्षकीय मशाल,,,,,,,

ये मशाल कहता है,,,,,,
आपके अथक परिश्रम की दास्तान,,,,,,,
ये मशाल कहता है,,,,,,,
यूँ ही बनाये रखना शिक्षक शब्द का मान,,,,,,,

आपकी कहानी सिर्फ़ कहानी नहीं है,,,,,,
असीम जज़्बे से लिपटी
वो किताब है,,,,,,,,
जिसे हम सभी शिक्षक ,,,,,,,
एक बार नहीं,,,,,
अनगिन बार पढ़ना चाहेंगे,,,,,क्यों सही लिखा न मैंने ,,,,मेरे शिक्षक साथियों,,,,,,,

nilam Anju purty

प्रेरणादायक है।

Anand ram dewangan P/S BUDIYA (TAMNAR)

बहुत ही अच्छा और सराहनीय प्रयास है।

Mahesh Singh

Very nice

BAL MUKUND SIDAR

good

PRABHA KUMARI

very nice

Mahesh Ram Baiga

बेहतरीन प्रभावशाली

Hira oraon

niice

Hira oraon

very nice

कमलकिशोर ताम्रकार M/S उसरीजोर वि़ख़. मैनपुर जिला गरियाबन्द

बहुत ही सुन्दर और लाजवाब

Santosh kumar

Nice

Rama sahu p/s sildaha

ईश्वरी भोई जी की कहानी से हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है

Rama sahu p/s sildaha

ईश्वर जी भाई जी की कहानी से हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है

RAMESH KUMAR RATHORE

कर्म ही पूजा है

Nisha devi

nice

Santosh Kumar

very good

श्री मोजय शंकर पटेल

good

Aruna diwan

very nive

Aaditya sharma

nice

Arjun varma

our proud

Radheshyam chouhan

good mam

sunita gayakwad

congratulations mam ji

Smt. Ishwari Bhoi

Thank you ji

Mrs Pragya Singh

बेहतरीन, प्रेरणादायक कहानी है आपकी मैडमजी 🙏🙏🙏

Smt. Ishwari Bhoi

धन्यवाद🙏🙏

samiksha tripathi

ह्दयस्पर्शी एवं प्रेरणादायक कहानी

Smt. Ishwari Bhoi

धन्यवाद 🙏🙏

Ramdular Nirala

प्रेरणादायक

Smt. Ishwari Bhoi

धन्यवाद।

raghuvansh mishra

good Madam

Smt. Ishwari Bhoi

Thank you.

Subodh Bhoi

बहुत बहुत बधाई।

wpDiscuz
54 Comments