कबाड़ की कहानी, अंकों की जुबानी

बलोदा बाज़ार, छत्तीसगढ़|

“दो एकम दो , दो दुनी चार, दो तिए छ:…” यह है मनोज कुमार जी के विद्यार्थी जो हमेशा ही कुछ नया सीखने के लिए तत्पर रहते हैं| पहाड़े तो सब ही रटते – रटाते है किन्तु अपने विद्यार्थियों को पहाड़ों की अवधारणा स्पष्ट करने के लिए तथा पहाड़ो की भविष्य में ज़रूरत समझाने के लिए मनोज कुमार जी ने एक तरकीब निकाली| एक दिन रास्ते से गुज़रते हुए कबाड़ की एक दुकान से उन्होंने पुरानी-खराब साइकिल के पहियों की स्पोक्स, यानी पहिये के आरे लिए, और उनका ऐसा इस्तेमाल किया जो किसी ने सोचा न था|

जहाँ उनका काम साथ मिलकर पहिये के आकार को व्यवस्थित रखना होता है वहां ये आरे कभी अलग और कभी साथ होकर बच्चों को आकड़े व पहाड़े सिखाते हैंI बोर्ड पर कुछ कीलों के द्वारा इन आरों को टिकाने का स्टैंड बना दिया गया है| हर स्टैंड पर एक आरा रखकर बच्चों को गिनती सिखाई जाती है| इसी प्रकार पहाड़े भी सिखाए जाते हैं: दो आरों को एक स्टैंड पर रखा गया और दो और को दुसरे स्टैंड पर रखकर यह समझाया जाता है कि दो बार दो आरे रखे गए तो कुल संख्या हुई चार जिसे कहते है ‘दो दुनी चार’| इस तरीके को अपनाने से बच्चों के परीक्षाओं  में प्राप्त अंकों में बढ़ोतरी दिखी|बार-बार उस क्रिया को करते – देखते बच्चों के मन में उसका चित्र बन जाता है जो उन्हें जीवन भर याद रहता है|

यह कहानी श्री कुमार बंजारे के जीवन पर आधारित है जो, बलोदा बाज़ार, छत्तीसगढ़ से हैं|
कहानी ईशा राखरा के द्वारा लिखी गयी है|  
हम छत्तीसगढ़ सरकार के आभारी हैं कि उन्होंने हमें  Humans of Indian Schools से परिचित किया|

Leave a Reply

Notify of
Neeta Pandey

nice

shraddha kedia

nice

बलराम नेताम

nice

rameshwarprasadbhagat

बहुत अच्छा

Hemant Kumar Verma

good

Subhash Kumar Gupta

very nice

kumari Preeti Shrivas

good

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी
आदरणीय श्री कुमार बंजारे जी,,,,आत्मीय नमन,,,,,, 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 कबाड़ की कहानी【 कविता 】 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 अगड़म बगड़म फेंकी हुई ,,,,,,,,,,,कचरे की सामग्री,,,,,,,,, बना दे कोई उसको कोई जब ,,,,बेहतरीन कलाकारी,,,,,,,,,,, कबाड़ की कहानी बन जाती ,,,,,तब अंकों की जुबानी,,,,,,,, वाह जी !ये तो हुई जादू से बड़ी ,,,,,,,,,अद्भत कहानी,,,,,,,, पर ये कहानी नहीं ,,,,है एक शिक्षक की दास्तान,,,,,,, जिन्होंने किया कबाड़ से ,,,,,नूतन वस्तुओं का निर्माण,,,,,,, सस्ता, सुंदर, सरल, उपयोगी ,,,,,,शिक्षण सामग्री लाभकारी,,,,,,,,, वाह जी !बंजारे जी नमन,,,,,,,, विलक्षण आपकी जादूगरी,,,,, क्या माचिस क्या बटन क्या कील,,,,,,,,सबने हुक़्म की ,,की है तामील अनुपम प्रयास आपको नमन,,,,,,,,क्या खूब आपके शील और गुण,,,,,, कबाड़… Read more »
kedar Nath Deshmukh

श्री बंजारे जी बहुत ही अद्भुत और प्रेरणादायक तरीका है आपका… Bahut सुंदर

poonam kaumarya

very good

Shweta tiwari

बेस्ट

sandhya kumari

good effort

Govind Patel

very good

kedar Nath Deshmukh

आदरणीय बंजारे जी.. आपका कार्य अतुलनीय है
बहुत सुन्दर प्रयास…

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

आदरणीय श्री कुमार बंजारे जी,,,,हार्दिक बधाइयाँ,,,,
▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️
आकाश है तुम्हारा【 कविता 】
➖➖➖➖➖✍️

सफ़ऱ करने को जब हो गए हो तैयार तुम,,,,,,
न सोचना ये कारवाँ कहाँ तक जाएगा,,,,,,
जहां तक भी जाएगा जान ही लो,,,,,,,
धूम ही मचाएगा,,,,,,।

विपत्तियों के दौर में मुस्कुराने की ठानी है,,,,,
न सोचना मुसीबतों की कितनी जिंदगानी है,,,,,,
ये जिंदगानी चाहे जितनी भी हो,,,,,
जज़्बों की कम न कभी रवानी हो,,,,।

तुम इच्छाशक्तियों की ऊंची वो मीनार हो,,,,,
तुम ही तो खिले गुलाबों की बहार हो,,,,,,
ओ शिक्षक साथियों तुम हो अप्रतिम ,,,,,
आकाश है तुम्हारा अनगिन असीम,,,,,,,,।

बधाई,,,,बंजारे जी,,,,🏆🏆
➖➖➖➖➖➖➖➖

suraj tiwari

पथ में चाहे आये पर्वत या समन्दर ।
लक्ष्य तो पाता वही है……
पाने की एक जूनून हो जिसके अंदर ।।
🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻)

विष्णुचरण पटेल

बहुत ही सुंदर

Laxmi Baghel

Nice

Radheshyam chouhan

nice

niranjan lal patel

good

Naresh kumar Chamba

nice

श्रीमती प्रियंका गोस्वामी

आदरणीय श्री कुमार बंजारे जी,,,,लिखना चाहूँगी खास आपके लिए,,,,,,,

आइये प्रेरणाओं के जगमगाते जुगनू से मिलिए,,,,,,,
प्रेरणा पलाश के बाग़बान से मिलिए,,,,,,,,
आइये श्री कुमार बंजारे जी से मिलिए,,,,

कबाड़ की कहानी अंकों की ज़ुबानी,,,,,,,
वाह मन हुआ बाग बाग,,,,,,
जब टीचर परिवार ने
सुनी कहानी,,,,,,,

बधाइयाँ लो स्वीकार बन्धु मेरे,,,,,,,💐💐💐
प्रेरणा की राह पर हम सब संग तेरे,,,,,,,
ये जज्बा कायम ही रखना,,,,,,,
बन प्रेरणा बार बार,,,,,,,,,,,,,,,,,हम सभी को उत्साहित करना,,,,,,

बंजारे जी,,,
हृदय से वंदन,,,,💐💐💐

Anand ram dewangan P/S BUDIYA (TAMNAR)

Very nice

Hira oraon

nice

BAL MUKUND SIDAR

Ati sundar

pardeshi Lal

good़

Rama sahu p/s sildaha

बहुत ही अच्छी जानकारी

Mahesh Ram Baiga

Good work

PRABHA KUMARI

nice

कमलकिशोर ताम्रकार M/S उसरीजोर वि़ख़. मैनपुर जिला गरियाबन्द

बहुत ही सुन्दर

कमलकिशोर ताम्रकार M/S उसरीजोर वि़ख़. मैनपुर जिला गरियाबन्द

very good sir

RAMESH KUMAR RATHORE

बहुत ही सराहनीय

Nisha devi

good

Santosh Kumar

very good

श्री मोजय शंकर पटेल

बहुत ही सुंदर

Aruna diwan

nice

Arjun varma

good sir

saroj baghel

har shikchak aiysa soch kar kare to hmare bachcho ki dasha sudhar jayegi sir bhut achcha work hai aapka

Smt. Ishwari Bhoi

बहुत अच्छा कार्य।

raghuvansh mishra

good work

Ramdular Nirala

बहुत अच्छा कार्य

wpDiscuz
41 Comments